मुर्गी पालन व्रणोपचार

मुर्गी पालन व्रणोपचार
विवरण:
मुर्गी पालन व्रणोपचार
उत्पाद: व्रणोपचार पोल्ट्री / कट अप हिस्सा का उत्पादन।
उपयोग: सुविधाजनक रूप में स्वच्छ और स्वस्थ्‍य उत्पाद, कचरे का उपयोग
विशेषता: प्रक्रिया में मृत्युपूर्व निरीक्षण, कत्तल करना, गरम पानी में उबालकर साफ़ करना, नाकाम बनाना, झुलसाना, अंतड़ी निकालना और मरणोत्तर निरीक्षण शामिल है। खाद्य आंतरिक अंगों को अलग किया, धोया और अलग से पैक किया जाता है। ध्वंसावशेष को धोया, पैक और बाद में भंडारण के लिए पीसी हुई बर्फ में ठंडा किया जाता है। ड्रेस्ड चिकन का विपणन ताजा, ठंडा या स्थिर रूप में किया जाता है। यह आधा चिकन, ड्रमस्टिक, जांघ, वक्ष का पिछला भाग और पंख जैसे कट ऑफ भागों में विपणन के लिए भी संभव है।
व्यावसायीकरण: व्यावसायिकता
अर्थव्यवस्था: 50 पक्षी / दिन।
निवेश: रु 4 लाख
उपकरण: रक्तप्रवाह कुंड के साथ गावदुम, उबालने या खौलाने का यंत्र, नोचना का यंत्र, ओवरफ्लो के साथ धोने के लिए टैंक, काटने के लिए ब्लॉक, अंतड़ी निकालने के लिए मेज, ठंडा करने के लिए टैंक, चित्ती के साथ अपवाह मेज, पैकिंग के लिए मेज, काटने के चाकू, झुलसाना, तराजू, बर्फ को पीसने के लिए, और गहरी फ्रीजर।
कच्ची सामग्री: पोल्ट्री पक्षी
संस्थान: केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान
Group Wise list/Search