श्री अजीम प्रेमजी को मेरी पुस्तक 'ए टेल ऑफ़ टू ड्रॉप्स' प्रस्तुत की। इस पुस्तक से याद आता है कि भारत के खूंखार पोलियो को कैसे मिटाया गया था।

श्री अजीम प्रेमजी को मेरी पुस्तक 'ए टेल ऑफ़ टू ड्रॉप्स' प्रस्तुत की। इस पुस्तक से याद आता है कि भारत के खूंखार पोलियो को कैसे मिटाया गया था।